राजनांदगांव: 21 जनवरी तक किसानों से 1297 करोड़ 27 लाख रूपए की धान खरीदी की गई, 31 जनवरी तक होगी धान खरीदी

राजनांदगांव जिले में धान खरीदी का कार्य तेज गति से जारी है। शासन द्वारा समर्थन मूल्य में धान खरीदी से किसानों में हर्ष व्याप्त है। जिले में धान खरीदी का कार्य सफलतापूर्वक होने से किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार आया है। वर्ष 2019-20 में खरीदी गए धान की कुल राशि 1233 करोड़ 1 लाख रूपए था। वहीं 2020-21 में अब तक 1297 करोड़ 27 लाख रूपए की धान खरीदी कर ली गई है। पिछले वर्ष की तुलना में 64 करोड़ 26 लाख रूपए की अधिक खरीदी की गई है।

  • अब तक 1297 करोड़ 27 लाख रूपए की धान खरीदी
  • जबकि विगत वर्ष 1233 करोड़ 1 लाख रूपए थी
  • पिछले वर्ष की तुलना में 64 करोड़ 26 लाख रूपए की अधिक खरीदी
  • गत वर्ष की तुलना में धान विक्रय करने वाले
  • 8 हजार 262 किसानों की संख्या बढ़ी
  • गत वर्ष की तुलना में अभी तक धान उपार्जन 15476.97 मीट्रिक टन बढ़ी
  • गत वर्ष की तुलना में 19 हजार 639 पंजीकृत किसानों की संख्या बढ़ी

वर्ष 2019-20 में जहां 1 लाख 76 हजार 441 किसान पंजीकृत थे। वही इस वर्ष 2020-21 में 1 लाख 96 हजार 080 किसान पंजीकृत है। वर्ष 2019-20 में जहां 1 लाख 65 हजार 275 किसानों ने धान का विक्रय किया था, वहीं वर्ष 2021 में धान विक्रय करने वाले किसानों की संख्या बढ़ कर 1 लाख 73 हजार 537 हो गई है। वर्ष 2019-20 में कुल धान उपार्जन 675400.91 मीट्रिक टन किया गया। वहीं 21 जनवरी 2021 तक 690877.88 मीट्रिक टन धान का उपार्जन किया जा चुका है। वर्ष 2019-20 में पंजीकृत मिल की संख्या 70 थी एवं मिलिंग क्षमता 77 हजार 200 है, वहीं वर्ष 2020-21 में मिल की संख्या 79 है एवं मिलिंग क्षमता 97 हजार 200 है।

अब तक 134663.20 मीट्रिक टन धान के लिए डीओ जारी किया गया है।  अब तक 129824.96 मीट्रिक टन धान का उठाव हो चुका है। अब तक कलकसा, घोटिया, ठेलकाडीह, बांधाबाजार, बीजाभांठा, मदुराकुही, सिंघोला धान संग्रहण केन्द्र के लिए 199118.00 मीट्रिक टन धान के लिए टीओ जारी किया गया है। उल्लेखनीय है कि धान खरीदी 31 जनवरी तक की जानी है।

Leave a Reply