News Flash

रायपुर : मंत्री ताम्रध्वज साहू : लोक सेवा गांरटी के आवेदनों का समय हो निराकरण ..कई मुद्दों पर लिये ठोस निर्णय

प्रदेश के गृह और लोक निर्माण मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत प्राप्त आवेदनों का निराकरण समय-सीमामें करने के निर्देश दिए हैं। श्री साहू ने आज अपने प्रभार जिले गरियाबंद में चल रहे विभिन्न विकास कार्यो की समीक्षा की। मंत्री श्री साहू ने कहा कि समाज के गरीब, मजदूर और जरूरतमंदों को भटकना न पड़े। बैठक में राजिम विधायक श्री अमितेश शुक्ल भी उपस्थित थे।

मंत्री श्री साहू ने कहा कि आमजन यदि किसी समस्या के संबंध में आवेदन दे रहे हैं, तो उनका त्वरित निराकरण सुनिश्चित किया जाए। प्रशासन को गरीबों और जरूरतमंदों के प्रति अधिक संवेदनशील होकर कार्य करना होगा। प्रभारी मंत्री ने बैठक में कोविड-19 के लिए की गई व्यवस्थाओं की समीक्षा भी की। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में बने क्वारेंटाइन सेंटर को पुनः मूल कार्य के लिए तैयार करंे। श्री साहू ने लोक निर्माण विभाग की समीक्षा में कहा कि जिले में क्षतिग्रस्त पुल-पुलिया और सड़कों की जानकारी दंे, ताकि तत्काल राशि स्वीकृत की जा सके। यदि बड़े कार्य है, तो उसे बजट में शामिल किया जायेगा। बारिश के पश्चात सड़कों के नवीनीकरण और डामरीकरण के लिए भी प्रस्ताव दंे। मंत्री श्री साहू ने नामांतरण, बटवारा और सीमांकन के प्रकरणों को प्राथमिकता से निराकरण करने के निर्देश दिये है। समीक्षा के दौरान प्रत्येक ग्राम पंचायतों में खाली जमीन पर फलदार पौधों का रोपण और खेल मैदान के नाम पर जमीन आरक्षित करने के निर्देश दिये है। सड़क किनारे वृक्षारोपण करने भी निर्देश दिये गये हैं। खाद्य विभाग को पहंुचविहिन क्षेत्रों में खाद्यान्न सामग्री पहुंचानें के निर्देश पर जानकारी दी गई कि इन क्षेत्रों में सितम्बर माह तक का खाद्यान्न पहुंचाया जा चुका है। जिला सहकारी बैंक की समीक्षा में खाद-बीज वितरण और फसल बीमा की जानकरी ली गई।

बैठक में नरवा, गरवा, घुरवा, बाड़ी योजना की प्रगति की समीक्षा की गई। मंत्री श्री साहू ने पुलिस वेलफेयर स्किम के तहत जिले में अन्य स्थानों पर पुलिस पेट्रोल पम्प खोलने की दिशा में पहल करने तथा कर्मचारियों के आवास मरम्मत कराने के निर्देश भी दिये हैं। स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा में सीएमएचओ को जिले में कोरोना टेस्टिंग विशेषकर घनी आबादी क्षेत्रों में बढ़ाने कहा। साथ ही प्रोटोकाल को ध्यान में रखते हुए सभी आवश्यक सावधानियां जैसे मास्क, फिजीकल डिस्टेंसिंग पर विशेष ध्यान देने कहा। महिला एवं बाल विकास विभाग को पूरक पोषण आहार, रेडी-टू-ईट की गुणवत्ता पर किसी पर किसी प्रकार की समझौता न हो, इस पर विशेष ध्यान रखते हुए बच्चों में संस्कार व नवाचारी शिक्षा को बढ़ावा देने कहा। उन्होंने उद्यानिकी विभाग के अधिकारियों को जिले के कृषकों को फूलों की खेती के लिए भी प्रेरित करने कहा। सेतु निर्माण विभाग के अधिकारियों को अवगत कराया कि स्वीकृत सेतु निर्माण के कार्य सरकार की प्राथमिकता में है जिले में स्वीकृत सेतु निर्माण कार्य समय पर पूर्ण कराये। बैठक में कृषि, जल संसाधन, लोक निर्माण, पशु चिकित्सा, खनिज, आरईएस, पीएचई, विद्युत, श्रम विभाग, उद्योग हस्तशिल्प विकास के कार्यो की भी समीक्षा की गई।

Leave a Reply