राजनांदगांव : सपनों को मिली मंजिल : मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना से भूपेन्द्र ने खोली किराने की दुकान

आत्मविश्वास एवं आत्मनिर्भर होने की खुशी श्री भूपेन्द्र के चेहरे पर साफ दिखाई देती है। उनके सपनों को मंजिल मिली, शासन की मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना से। उन्हें उद्योग विभाग से इस योजना के तहत 1 लाख रूपए की राशि ऋण में मिली, जिससे उन्होंने रेवाडीह में किराना की दुकान खोल ली। श्री भूपेन्द्र राजपूत ने बताया कि शासन की सहायता से उन्हें बहुत मदद मिली है और अपने किराना की दुकान खोलने की हिम्मत बढ़ी। अब हमारे किराना की दुकान अच्छी चल रही है। कॉलोनी के आस-पास के ग्राहक काफी संख्या में आते हैं। पिता जी की मृत्यु के बाद परिवार की जिम्मेदारी भी है ऐसे में सब की मदद करने में खुशी मिलती है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार युवाओं के लिए बहुत अच्छी है। उन्होंने बताया कि किराने का सामान लाने के लिए उन्होंने गाड़ी भी खरीद ली है। उनकी माता श्रीमती उमा बाई राजपूत ने प्रसंन्नता जाहिर करते हुए बताया कि अपनी मेहनत से उनका बेटा आज सफल हो गया है।

Leave a Reply