COVID-19 अपडेट छत्तीसगढ़ / नियमों की अनदेखी पड़ने लगी भारी, संक्रमित मरीज 90 हजार के पार, 28 मरीजों की मौत

छत्तीसगढ़ में पिछले 24 घंटों के दौरान 2736 नए लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है। राज्य में इस वायरस से संक्रमित हुए लोगों की संख्या बढ़कर अब 90,917 हो गई है।इनमें रायपुर जिले से 958, दुर्ग से 418, रायगढ़ से 197, बलौदाबाजार से 125, महासमुंद से 105, सुकमा से 86, बिलासपुर से 83, सरगुजा से 79, दंतेकड़ा से 78, धमतरी से 77, बालोद से 70, मुंगेली से 67, कांकेर से 60, बस्तर से 59, जशपुर से 48, कोरबा से 46, राजनांदगांव से40, सूरजपुर से 36, जांजगीर-चांपा से 26, नारायणपुर से 24, बेमेतरा और गरियाबंद से 21-21, बलरामपुर से पांच, कबीरधाम से चार, कोरिया से एक तथा अन्य राज्य से दो मरीज शामिल हैं।

नए केस मिलाकर प्रदेश में 90,917 पॉजिटिव केस हो गए हैं, जबकि 38,198 अस्पतालों में भर्ती हैं।

कल 1313 मरीज़ उपचार उपरांत स्वस्थ होने के पश्चात डिस्चार्ज/ रिकवर्ड हुए । इनमे से 1124 होम आइसोलेशन वाले है ।  राज्य में कुल स्वस्थ होने के उपरांत डिस्चार्ज/ रिकवर्ड हुए मरीज़ों की संख्या 52,001 है।

पिछले 24 घंटे में 28 मरीजों की कोरोना से जान गई है। इनमे से 15 को-मोर्बिडीटी डेथ भी है। अब तक प्रदेश में 718 लोगों की कोरोना से मृत्यु हो चुकी है। इनमें लगभग आधे 339 मरीज रायपुर के थे।

जिलों के प्रशासन ने रायपुर, बिलासपुर और दुर्ग सहित 6 जिलों में पहले से ही लॉकडाउन कर दिया है। इसके चलते प्रदेश की 25 फीसदी से ज्यादा आबादी घरों में कैद हो गई है। इसका एक बड़ा कारण लोगों की लापरवाही भी है। नियमों की अनदेखी भारी पड़ने लगी है। इसके चलते प्रदेश में संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 90 हजार को पार कर गया है।

गरियाबंद : जिले की सीमाएं सील, सड़क पर पुलिस
जिले की मंगलवार रात 9 बजे से सीमाएं सील कर दी गई हैं। इस बार सख्ती ज्यादा है। फल-सब्जी, किराना सब दुकानें बंद हैं। हालांकि दूध सुबह 6 से 8 और शाम को 5 बजे से 6.30 बजे तक मिल सकेगा। आम लोगों को पेट्रोल भी नहीं मिलेगा। शराब दुकानें बंद रहेंगी, पर होम डिलीवरी की जाएगी। अन्य जिलों में जाने वाले लोगों को ई-पास बनवाना होगा।

कोरिया : पांच दिन का लॉकडाउन, पर छूट के साथ
जिले में 23 से 27 सितंबर तक 5 दिनों का लॉकडाउन लगाया गया है। इस दौरान मेडिकल व पेट्रोल पंप खुले रहेंगे। किराना, सब्जी, दूध की दुकानें सुबह 7 से 10 तक खुलेंगी। नगरीय क्षेत्र बैकुंठपुर, ग्राम पंचायत रामपुर, तलवापारा, ओड़गी, भाड़ी, सहित पटना, केल्हारी, पंडोपारा, पोड़ी बचरा, नागपुर, रामगढ़, कटगोड़ी, कोटाडोल व कटकोना को भी कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है।

धमतरी : शहरी क्षेत्र 30 सितंबर तक कंटेनमेंट जोन, 3 घंटे खुलेंगे बैंक
जिले के नगरीय निकायों के सभी वार्डों को 30 सितंबर तक कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। इस दौरान सिर्फ बैंक जरूरी कार्य नगदी जमा और निकासी के लिए सुबह 11 से दोपहर 2 बजे तक खुलेंगे। इसमें भी एक तिहाई स्टाफ ही रहेगा। परीक्षाओं को देखते हुए स्टेशनरी दुकानों को सुबह 10 से 2 बजे तक खोलने की अनुमति दी गई है।

सिर्फ इन स्टेशनरी दुकानों को खोलने की दी गई छूट

  • जैन सप्लायर, गरिमा सप्लायर, जलाराम बुक हाऊस मठ मंदिर चौक।
  • खुशबू स्टेशनरी रत्नाबांधा रोड, एशवर्य स्टेशनरी व फोटो कॉपी, श्याम स्टेशनरी कलेक्टोरेट रोड रूद्री, न्यू रूद्राणी प्रिंटर्स रिसाई पारा, गोपाल खंडेलवाल रूद्री रोड।
  • ब्लूवेब टेक्नोसॉफ्ट सिहावा चैक, अरिहंत स्टेशनरी मार्ट सदर बाजार, महालक्ष्मी बुक एवं ट्रेडिंग, विकास नेटवर्क, पियूष बुक डिपो, दीपक बुक डिपो, अनुराग स्टेशनरी मार्ट गणेश चौक।
  • पियूष बुक माल, ओम फोटो कॉपी एंड स्टेशनरी और कुंभकार कम्प्यूटर्स धमतरी।
  • राजीव कम्प्यूटर्स नगरी, हिमशिखा स्टेशनरी मगरलोड, शिक्षा स्टेशनरी एवं जनरल स्टोर्स कुरूद, आमदी स्थित श्वेता बुक डिपो स्टेशनरी मार्ट और कबीर बुक डिपो खुली रहेंगी।

इन जिलों में भी लॉकडाउन किया गया

  • रायपुर : जिसे की सभी सीमाएं 28 सितंबर तक सील की गईं। सड़क पर हर जगह पुलिस मौजूद है। शहर के हर एंट्री प्वाइंट पर बैरिकेडिंग की गई है।
  • दुर्ग : यहां 19 सितंबर की रात 9 बजे से से 10 दिन का लॉकडाउन शुरू हो गया है। हालांकि, यह भी पहले की तरह रहेगा और लोगों को जरूरी सेवाओं के लिए छूट मिलेगी।
  • बिलासपुर : यहां भी आज से लॉकडाउन शुरू हो गया है। रायपुर की तरह बिलासपुर में भी सख्ती है। पुलिस ने सुबह मार्च किया। साथ ही लोगों से घरों में रहने की अपील की है।
  • बालोद और मुंगेली: इन जिलों में भी सोमवार रात 9 बजे से लॉकडाउन किया गया है। यहां पर लोगों को पहले की तरह जरूरी सुविधाओं में तय समय के अनुसार छूट दी जाएगी। बालोद में 30 और मुंगेली में 23 सितंबर तक बंद रहेगा।

Leave a Reply